जिले में पटाखों की अवैध बिक्री व भंडारण की जानकारी देने के लिए किया हेल्पलाइन नंबर ! डिप्टी कमिश्नर

जालंधर : जिले में पटाखों के अवैध भंडारण व बिक्री के खिलाफ चल रही मुहिम को और तेज करते हुए सोमवार को डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने हेल्पलाइन नंबर 8556918229 और 0181-2224417 जारी किए हैं, जिस पर कोई भी नागरिक अपनी शिकायत दर्ज करवा सकता है।जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने बताया कि लोग अपनी शिकायत व्हॉट्स एप या फिर फोन कॉल के जरिए उपरोक्त नंबरों पर दर्ज करवा सकते हैं, जिस पर प्रशासन की तरफ से समयबद्ध तरीके से कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने आगे कहा कि सरकार की तरफ से हाल ही में विदेशी आयातित पटाखों पर पूरी तरह से बैन लगा दिया गया है और इस तरह के मामलों पर सख्त कार्रवाई करने का आदेश जारी किया है। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि जिला प्रशासन की तरफ से एक तीन मेंबरी कमेटी का गठन किया गया है, जिसमें जिला प्रशासन, पुलिस डिपार्टमेंट और नगर निगम से प्रतिनिधि शामिल किए गए हैं ताकि अनाधिकृत बिक्री व भंडारण को लेकर ग्राउंड लैवल पर कार्रवाई को अंजाम दिया जा सके। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि इस टीम में एडीसीपी वत्सला गुप्ता, एसडीएम राहुल सिंधू और निगम के ज्वाइंट कमिश्नर हरचरण सिंह को शामिल किया गया है और यह कमेटी इस मामले पर उचित कार्रवाई के लिए संबंधित विभागों में तालमेल को सुनिश्चित करेगी, साथ ही कार्रवाई को तेज करवाएगी जानकारी देते हुए डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि जिले में सिर्फ छह परमानेंट लाइसेंस जारी किए गए हैं, जोकि कमिश्नरेट पुलिस की तरफ से खांबरा गांव की मैसर्ज बराको फायरवर्कस को जारी किए गए हैं। इन सभी छह लाइसेंसों की वैधता मार्च 2021 से लेकर मार्च 2023 तक है। डिप्टी कमिश्नर ने आगे बताया कि इसी तरह कमिश्नरेट पुलिस की तरफ से शहर में 20 अस्थायी लाइसेंस जारी किए गए हैं, जोकि बर्ल्टन पार्क में पटाखा बिक्री के लिए ही मान्य हैं। जबकि जिला प्रशासन की तरफ से पुलिस कमिश्नरेट की हदबंदी से बाहर वाले इलाकों (ग्रामीण क्षेत्रों) के लिए कोई भी अस्थायी लाइसेंस इस साल जारी नहीं किया गया। थोरी ने खास तौर पर कहा कि अनाधिकृत तौर पर पटाखों की बिक्री व भंडारण पूरी तरह से प्रतिबंधित है, सिर्फ निश्चित किए गए स्थानों पर ही बिक्री व भंडारण अधिकृत है। इन आदेशों का उल्लंघन करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा और ऐसे मामलों में सख्त कार्रवाई की जाएगी।उन्होंने कहा कि प्रशासन, पुलिस और नगर निगम की संयुक्त टीमें पटाखों से संबंधित अवैध गतिविधियों पर दिनरात निगरानी कर रही है, साथ ही डिप्टी कमिश्नर ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि उक्त हेल्पलाइन नंबरों पर इससे संबंधित सूचनाएं सांझा करें ताकि सरकारी आदेशों को लागू किया जा सके और लोगों की सुरक्षा को यकीनी बनाया जा सके।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *